SHARE


सोशल मीडिया पर सऊदी अरब के लोग इन दिनों एक नए हैशटैग के साथ अपने-अपने विचार साझा कर रहे हैं, जिसमे हैश टैग के साथ एक ऐसे व्यक्ति की कहानी बताई जा रही है, जिसने एक साथ चार मोरक्को की लड़कियों से शादी कर  दी. इस वीकेंड पर यह खबर काफी वायरल हुई, खबर के वायरल हो जाने पर लोग अपने -अपने ओपिनियन सोशल मीडिया पर रखने लगे.

हालंकि इस खबर की अभी पुष्टि नहीं हुई है. लेकिन इस हैश टैग से हजारों लोग अपने -अपने विचारों को साझा कर रहे हैं.

इस खबर के वायरल होते ही कई लोगों ने व्यक्ति के खिलाफ सोशल मीडिया पर नाराजगी जताई और कहा की महिलाओं के प्रति यह कृत्य अपमानजनक है. कई लोगों ने महिलाओं की ही निंदा की, हालाँकि कई लोगों ने महिलाओं के हित में बात की.

कई लोगों का मानना है की यह अपवाह है तो कई लोग इसे सच्च कह रहे हैं. क्योंकि सऊदी अरब में बहु विवाह होना आम बात है और सऊदी अरब बहु विवाह का नेतृत्व करता है.

(मेरे ख्याल से यह हैश टैग सत्य नहीं है)

(एक ही समय पर कैसे कोई चार महिलाओं से शादी कर सकता है)

इस्लाम में बहुविवाह केवल शर्तों के तहत स्वीकार्य है

अरब दुनिया भर के देशों में, बहुत से लोग मानते हैं कि इस्लाम बिना शर्त बिना एक ही समय में एक से अधिक महिला से विवाह करने की अनुमति देता है. हालाँकि सोशल मीडिया पर यह हैश टैग इस वजह से भी प्रसिद्ध है क्योंकि सऊदी व्यक्ति ने किसी विदेशी से शादी की. बहु विवाह अभी भी सऊदी अरब में बहस का मामला है, हर बार सोशल मीडिया पर यह मुद्दा आता है, कई यूजर बहु विवाह से सहमत होते हैं तो कई इस बात पर असमर्थ होते हैं.

स्टेप फीड की खबरों के मुताबिक धर्म ने पहले विधवाओं के लिए बहुविवाह की अनुमति दी थी.

कुरान स्पष्ट रूप से कहता है कि यदि कोई व्यक्ति उसे और उसकी सारी अन्य पत्नियों को “समान रूप से” मानता है तो आदमी एक से अधिक महिला से विवाह कर सकता है.

“लेकिन अगर आपको डर है कि आप सही नहीं होंगे, तो [केवल एक] से शादी कर लें,”

Total Share



Source link

SHARE