SHARE


trumpescalatestension

फिलिस्तीनी समस्या को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि इजरायल और फिलिस्तीन दोनों ही शांति नहीं चाहते है.

अमेरिका की और से दोनों देशों के बीच चलाई जा रही शांति बहाली की योजना को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कोई भी पक्ष शांति प्रक्रिया के लिए प्रतिबद्ध नहीं है. ट्रंप ने रविवार को इजरायल के समाचार पत्र हायोम को दिए साक्षात्कार में कहा, “हम देख रहे हैं कि क्या होता है.”

उन्होंने कहा, “फिलहाल, मैं कहना चाहूंगा कि फिलिस्तीनी शांति के मूड में नहीं दिख रहे और मैं इसे लेकर भी आश्वस्त नहीं हूं कि इजरायल शांति चाहता है. इसलिए हम यह देखना चाहते हैं कि क्या होता है.” उन्होंने शांति प्रक्रिया के लिए वाशिंगटन की योजना की समयसीमा निर्धारित करने से भी इनकार किया.

साथ ही जेरुसलम को लेकर फैसले पर ट्रंप ने कहा कि वह अपने पहले के रुख पर अडिग हैं. उन्होंने बताया, “मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि जेरूसलम इजरायल की राजधानी है और सीमाओं की बात करूं तो मैं दोनों पक्षों के बीच की सहमति का समर्थन करता हूं.” मुझे लगता है कि दोनों पक्षों को शांति समझौते पर सहमति बनाने के लिए बीच का रास्ता निकालना पड़ेगा.

ध्यान रहे फिलिस्तीन जेरुसलम को लेकर अमेरिका को एक धोखेबाज करार दे चूका है. साथ ही फिलिस्तीन ने घोषणा की है कि वह अभी शांतिवार्ता में अमेरिका के साथ शामिल नहीं होगा.

The post न तो इजरायली और नहीं फिलिस्तीनी चाहते हैं अमन और शांति: डोनाल्ड ट्रंप appeared first on Kohram Hindi News.

SHARE