SHARE


अमेरिका की और से पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद पर रोक की बात बैमानी साबित हो रही है. दरअसल, ट्रंप प्रशासन ने पाकिस्तान को 34 करोड़ करोड़ डॉलर की मदद का प्रस्ताव दिया है.

अमेरिका ने नए वित्त वर्ष 2019 में के लिए अपने 40 खरब डॉलर के बजट में पाकिस्तान को कुल 34 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद करने की घोषणा की है. ट्रंप सरकार ने पाकिस्तान के लिए 25 करोड़ डॉलर की असैन्य सहायता और 8 करोड़ डॉलर की सैन्य मदद की घोषणा की है.

बजट प्रस्ताव में कहा गया है कि पाकिस्तान अपनी जमीन पर चल रहे आतंकी गतिविधियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है, इसलिए उसे यह मदद दी जा रही है. ट्रंप प्रशासन के इस कदम से मोदी सरकार की कूटनीति के लिए  करारा झटका माना जा रहा है.

व्हाइट हाउस ने कहा कि सैन्य सहायता के तौर पर 8 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद पाकिस्तान को अपनी जमीन पर आतंकी गतिविधियों को खत्म करने में मदद करेगी. वहीं, 25.6 करोड़ डॉलर की असैन्य मदद के बारे में बजट में कहा गया है कि यह सहायता पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति में स्थिरता लाने और अमेरिकी उद्योगों के लिए नए अवसर पैदा करने के लिए दी जा रही है.

ध्यान रहे अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के नाम पर 33 अरब डॉलर (करीब 2 लाख 11 हजार करोड़ रुपये) की आर्थिक सहायता दे चुका है. हालांकि कुछ ही हफ्ते पहले आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर ट्रंप प्रशासन ने पाकिस्तान को दी जा रही सैन्य सहायता पर रोक लगा दी थी.

The post पाकिस्तान के आगे झुका अमेरिका – ‘बजट में 34 करोड़ डॉलर की मदद का ऐलान’ appeared first on Kohram Hindi News.

SHARE