SHARE


सऊदी अरब में पिछले साल क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के द्वारा चलाये गए भ्रष्टाचार अभियान, जिसमे कई शाही परिवारों के सदस्यों को हिरासत में लिया गया था, सभी राजकुमारों को सऊदी अरब के विलासितापूर्ण रिट्ज कार्लटन होटल अस्थायी रूप से कैद कर दिया गया था.

इस गिरफ्तारी प्रिंस अलवलीद बिन तलाल जैसे अरबपति भी शामिल थे, इसे लगभग तीन महीने तक अस्थायी जेल बनाया गया था, हालाँकि इसे दोबारा खोल दिया गया है, अब इसे पहले के जैसा संचालित किया जायेगा, मिडिल ईस्ट मॉनिटर की खबरों के मुताबिक होटल में बुकिंग शुरू कर डी गयी है जिसमे हर कमरे का एक रात का किराया 666 डॉलर है.

यह होटल भ्रष्टाचार अभियान के तहत बड़े राजकुमारों की गिरफ्तारी की वजह से बंद किया गया था, इसमें तीन सौ से अधिक राजकुमारों, मंत्रियों व व्यवसायियों को रखा गया था. हालाँकि कुछ कैदियों को रिहा कर दिया गया है, जबकि अभी 56 लोग हिरासत में हैं जिन्हें दूसरी जगह भेज दिया गया है.

होटल स्टाफ ने पुष्टि की “कि अब होटल सामान्य व्यवसाय के रूप में संचालित किया जाएगा.”

भ्रष्टाचार विरोधी अभियान के दौरान सबसे उच्च प्रोफ़ाइल वाले लोगों में विश्व निवेशक प्रिंस अलवालीद बिन तलाल और प्रिंस मितेब बिन अब्दुल्ला थे, जिन्हें एक बार सत्ता का दावेदार माना जा रहा था.

होटल स्टाफ के मुताबिक “होटल के स्टाफ ने नया मेनू बनाया है और “ग्रैंड ब्रंच” नामक एक कार्यक्रम 16 और 17 फरवरी को होटल में आयोजित किया जाएगा, यह उस दिन 33 प्रकार के व्यंजनों के साथ 700 खाद्य पदार्थों को पेश करेगा.

होटल स्टाफ ने कहा की “होटल परिवारों के लिए वीकेंड के लिए नए पैकेज की घोषणा करने की तैयारी कर रहा है.”

Total Share



Source link

SHARE